How To Get Over Negative Self Talk

नकारात्मक आत्म-चर्चा एक आम समस्या है जो हमारे मानसिक स्वास्थ्य और कल्याण पर महत्वपूर्ण प्रभाव डाल सकती है। इससे चिंता, अवसाद और कम आत्मसम्मान की भावनाएं पैदा हो सकती हैं। यदि आप नकारात्मक आत्म-चर्चा से जूझ रहे हैं, तो इसे दूर करने के लिए आप कई चीजें कर सकते हैं।

1.अपनी नकारात्मक आत्म-चर्चा को पहचानें।

नकारात्मक आत्म-चर्चा पर काबू पाने के लिए पहला कदम इसे पहचानना है। अपने विचारों पर ध्यान दें और नकारात्मक विचारों को पहचानें। एक बार जब आप अपनी नकारात्मक आत्म-चर्चा से अवगत हो जाते हैं, तो आप इसे चुनौती देना शुरू कर सकते हैं।[सोच रहे एक व्यक्ति की छवि]

2.अपने नकारात्मक विचारों को चुनौती दें।

जब आपके मन में कोई नकारात्मक विचार आए, तो अपने आप से पूछें कि क्या यह वास्तव में सच है। क्या इस विचार का समर्थन करने के लिए कोई सबूत है? क्या स्थिति को देखने का कोई और सकारात्मक तरीका है?[एक विचार बुलबुले में नकारात्मक विचारों को पार करते हुए व्यक्ति की छवि]

3.अपने नकारात्मक विचारों को सकारात्मक विचारों से बदलें।

एक बार जब आप अपने नकारात्मक विचारों को चुनौती दे लें, तो उन्हें सकारात्मक विचारों से बदल दें। इसमें कुछ अभ्यास की आवश्यकता हो सकती है, लेकिन लगातार बने रहना महत्वपूर्ण है।[सकारात्मक विचार सोचने वाले व्यक्ति की छवि]

4.आत्म-करुणा का अभ्यास करें।

आत्म-करुणा स्वयं के प्रति दयालु होने और समझने का अभ्यास है, तब भी जब आप गलतियाँ करते हैं। जब आपके मन में कोई नकारात्मक विचार आए, तो अपने साथ उसी दयालुता और समझदारी से पेश आने का प्रयास करें जो आप किसी मित्र के साथ करते हैं।[खुद को गले लगाते व्यक्ति की छवि]

5.जरूरत पड़ने पर पेशेवर मदद लें!

यदि आप स्वयं नकारात्मक आत्म-चर्चा पर काबू पाने के लिए संघर्ष कर रहे हैं, तो किसी चिकित्सक या परामर्शदाता से पेशेवर मदद लें। वे आपको नकारात्मक विचारों और भावनाओं से निपटने के लिए अतिरिक्त रणनीतियाँ सिखा सकते हैं।

नकारात्मक आत्म-चर्चा पर काबू पाने के लिए यहां कुछ अतिरिक्त सुझाव दिए गए हैं:

*वर्तमान क्षण पर ध्यान केंद्रित करें।

नकारात्मक आत्म-चर्चा अक्सर अतीत पर केंद्रित होती है या भविष्य की चिंता करती है। वर्तमान क्षण पर ध्यान केंद्रित करने का प्रयास करें और इस समय आपके पास जो है उसकी सराहना करें।

*आभार का अभ्यास करें।

जिन चीज़ों के लिए आप आभारी हैं, उन पर विचार करने के लिए हर दिन कुछ समय निकालें। यह आपका ध्यान नकारात्मक विचारों से सकारात्मक विचारों की ओर स्थानांतरित करने में मदद कर सकता है।

*अपने आप को सकारात्मक लोगों से घेरें।

जिन लोगों के साथ आप समय बिताते हैं वे आपके विचारों और भावनाओं पर बड़ा प्रभाव डाल सकते हैं। अपने आप को सकारात्मक लोगों से घेरें जो आपका समर्थन करते हैं और आपको प्रोत्साहित करते हैं।नकारात्मक आत्म-चर्चा पर काबू पाने में समय और प्रयास लगता है, लेकिन यह संभव है।

इन युक्तियों का पालन करके, आप अपने भीतर के आलोचक को चुप कराना सीख सकते हैं और अधिक सकारात्मक आत्म-छवि विकसित कर सकते हैं।

Leave a Comment