How To Avoid Brain Stroke

स्ट्रोक तब होता है जब मस्तिष्क के एक हिस्से में रक्त का प्रवाह बाधित हो जाता है या गंभीर रूप से कम हो जाता है, जिससे मस्तिष्क के ऊतकों को ऑक्सीजन और पोषक तत्व नहीं मिल पाते हैं। मस्तिष्क की कोशिकाएं कुछ ही मिनटों में मरने लगती हैं। स्ट्रोक एक चिकित्सीय आपातकाल है, और शीघ्र उपचार महत्वपूर्ण है।ब्रेन स्ट्रोक से बचने के कुछ उपाय इस प्रकार हैं:

1.स्वस्थ वजन बनाए रखें।

अधिक वजन या मोटापा होने से स्ट्रोक का खतरा बढ़ जाता है। 25 से कम बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) का लक्ष्य रखें।

2.स्वस्थ आहार लें।

भरपूर मात्रा में फल, सब्जियाँ और साबुत अनाज चुनें। संतृप्त और ट्रांस वसा, कोलेस्ट्रॉल, सोडियम और अतिरिक्त शर्करा को सीमित करें।

3.नियमित व्यायाम करें।

प्रत्येक सप्ताह कम से कम 150 मिनट की मध्यम तीव्रता वाली एरोबिक गतिविधि या 75 मिनट की तीव्र तीव्रता वाली एरोबिक गतिविधि का लक्ष्य रखें। आप मध्यम और तीव्र तीव्रता वाली गतिविधि का संयोजन भी कर सकते हैं।

4.रक्तचाप को नियंत्रित करें।

उच्च रक्तचाप स्ट्रोक के लिए एक प्रमुख जोखिम कारक है। यदि आपको उच्च रक्तचाप है, तो इसे नियंत्रित करने के लिए अपने डॉक्टर से संपर्क करें।

5.कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करें।

उच्च कोलेस्ट्रॉल आपकी धमनियों को अवरुद्ध कर सकता है और स्ट्रोक का खतरा बढ़ा सकता है। यदि आपका कोलेस्ट्रॉल उच्च है, तो इसे कम करने के लिए अपने डॉक्टर से संपर्क करें।

6.धूम्रपान छोड़ें!

धूम्रपान आपकी धमनियों को नुकसान पहुंचाता है और स्ट्रोक का खतरा बढ़ जाता है।

7.शराब का सेवन सीमित करें।

बहुत अधिक शराब पीने से स्ट्रोक का खतरा बढ़ सकता है।

8.मधुमेह का प्रबंधन करें।

मधुमेह स्ट्रोक के लिए एक जोखिम कारक है। यदि आपको मधुमेह है, तो अपने रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने के लिए अपने डॉक्टर के साथ काम करें।

9.तनाव कम करें।

तनाव आपके स्ट्रोक के खतरे को बढ़ा सकता है। तनाव को प्रबंधित करने के स्वस्थ तरीके खोजें, जैसे व्यायाम, विश्राम तकनीक या योग।

10.नियमित जांच के लिए अपने डॉक्टर से मिलें।

आपका डॉक्टर स्ट्रोक के जोखिम कारकों की जांच कर सकता है और आपके जोखिम को कम करने के लिए जीवनशैली में बदलाव या दवा की सिफारिश कर सकता है।इन जीवनशैली में बदलावों के अलावा, कुछ चिकित्सीय स्थितियाँ हैं जो स्ट्रोक के खतरे को बढ़ा सकती हैं, जैसे एट्रियल फ़िब्रिलेशन, कैरोटिड धमनी रोग और सिकल सेल रोग। यदि आपके पास इनमें से कोई भी स्थिति है, तो उन्हें प्रबंधित करने और स्ट्रोक के जोखिम को कम करने के लिए अपने डॉक्टर के साथ काम करें।

  • ब्रेन स्ट्रोक से बचने के लिए यहां कुछ अतिरिक्त सुझाव दिए गए हैं:

* स्ट्रोक के चेतावनी संकेतों से सावधान रहें। फास्ट का संक्षिप्त नाम स्ट्रोक के लक्षणों को याद रखने का एक त्वरित और आसान तरीका है:एफ – चेहरा: क्या चेहरे का एक तरफ का भाग झुक जाता है?ए – भुजाएँ: क्या एक भुजा कमज़ोर या सुन्न है?एस – वाणी: क्या वाणी अस्पष्ट है या समझना मुश्किल है?टी – समय: यदि आप इनमें से किसी भी लक्षण का अनुभव करते हैं, तो तुरंत 911 पर कॉल करें।

* अपनी दवाएँ निर्धारित अनुसार लें। यदि आपको रक्तचाप, कोलेस्ट्रॉल, या रक्त शर्करा को कम करने के लिए दवा दी गई है, तो इसे अपने डॉक्टर के निर्देशानुसार लें।

* अपने तनाव के स्तर को प्रबंधित करें। तनाव को प्रबंधित करने के स्वस्थ तरीके खोजें, जैसे व्यायाम, विश्राम तकनीक या योग।

* पर्याप्त नींद। अधिकांश वयस्कों को प्रति रात लगभग 7-8 घंटे की नींद की आवश्यकता होती है।

* नियमित जांच के लिए अपने डॉक्टर से मिलें। आपका डॉक्टर स्ट्रोक के जोखिम कारकों की जांच कर सकता है और आपके जोखिम को कम करने के लिए जीवनशैली में बदलाव या दवा की सिफारिश कर सकता है।

इन युक्तियों का पालन करके, आप स्ट्रोक के जोखिम को कम कर सकते हैं और एक स्वस्थ जीवन जी सकते हैं।

Leave a Comment